इनमें द्वेष भावना होती है

पंचम अध्याय नीति : 6

इनमें द्वेष भावना होती है

चाणक्य नीति के पंचम  अघ्याय के छठी नीति में आचार्य चाणक्य कहते हैं कि मूर्ख व्यक्ति पंडित को देखकर जलता है। निर्धन-गरीब व्यक्ति धनवानों को देखकर जलता है यानि द्वेष करता है। वैश्याएँ अच्छे घरों के बहू—बेटियों से जलती है। विधवाएँ सुहागिनों से जलती है। यह प्रकृति का नियम है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s